फिक्स्ड डिपॉजिट्स पर टीडीएस के बारे में जानकारी  – Tds on Interest in hindi  सेक्शन 194 A

फिक्स्ड डिपॉजिट्स पर टीडीएस के बारे में जानकारी – Tds on Interest in hindi सेक्शन 194 A

Tds on Interest in hindi – भारत में अघिकतर लोग म्यूच्यूअल फण्ड में इन्वेस्ट करने के बजाय बैंको में फिक्स्ड डिपॉजिट ( F.D ) करवाना अधिक पसंद करते है, क्योकि बैंको में fd करना इन्वेस्ट करने का एक सिक्योर तरीका माना जाता है, जिस पर इन्वेस्टर एक फिक्स्ड ब्याज की इनकम कमा सकते है। fd से होने वाली ब्याज की इनकम टैक्स फ्री नहीं होती है और इस पर टीडीएस के प्रावधान लागू होते है। (more…)

क्या आप भी Tds on Rent  के लिए उत्तरदायी है और आपको कब तक टीडीएस काटना जरुरी है के बारे में पूरी जानकारी।

क्या आप भी Tds on Rent के लिए उत्तरदायी है और आपको कब तक टीडीएस काटना जरुरी है के बारे में पूरी जानकारी।

सेक्शन 194- I Tds on Rent के सभी प्रावधानों के बारे में बताता है जिसके अनुसार कोई भी पर्सन किसी भी अन्य पर्सन को (जो की रेजिडेंट हो) किराये का भुगतान करता है तो वह पर्सन कुछ शर्तो के पूरा होने पर टीडीएस काटने के लिए उत्तरदायी होता है। (more…)