सेक्शन 89 की रिलीफ से कैसे हम टैक्स बचा सकते है – relief under section 89 of income tax act in hindi

सेक्शन 89 की रिलीफ से कैसे हम टैक्स बचा सकते है – relief under section 89 of income tax act in hindi

section 89 of income tax act in hindi – एक टैक्सपेयर को इनकम टैक्स में अधिक टैक्स लायबिलिटी से बचाने के लिए section 89 में relief दी जाती है। सेक्शन 89 की relief तब दी जाती है जब किसी पर्सन को एडवांस सैलरी, arrears of salary, family pension या profit in lieu of salary प्राप्त होती है। (more…)

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट क्यों करता है आपके खातों की जाँच – scrutiny assessment under section 143 of income tax act

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट क्यों करता है आपके खातों की जाँच – scrutiny assessment under section 143 of income tax act

scrutiny assessment under section 143 of income tax act – इनकम टैक्स डिपार्टमेंट कई तरह के Taxpayers को उनकी इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के बाद भी इनकम टैक्स नोटिस जारी कर देता है। इस इनकम टैक्स नोटिस में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट आपसे कोई भी सूचना मांग सकता है।

इन्ही इनकम टैक्स नोटिस में से एक नोटिस है “income tax scrutiny notice “. स्क्रूटिनी असेसमेंट में 2 सेक्शन कवर होते है, पहला सेक्शन 143 (2) जिसमे आपको स्क्रूटिनी शुरू करने का नोटिस दिया जाता है और दूसरा section 143 (3) इस सेक्शन में आपके स्क्रूटिनी केस के सेटलमेंट का आर्डर दिया दिया जाता है। (more…)

नेशनल पेंशन स्कीम और अटल पेंशन योजना से इनकम टैक्स कैसे और कितना बचा सकते है ?-tax benefits of national pension scheme in hindi

नेशनल पेंशन स्कीम और अटल पेंशन योजना से इनकम टैक्स कैसे और कितना बचा सकते है ?-tax benefits of national pension scheme in hindi

tax benefits of national pension scheme in hindi – रिटायरमेंट के बाद की लाइफ सुरक्षित करने के लिए आप कई तरह के इन्वेस्टमेंट करते है।  इन सभी इन्वेस्टमेंट का उद्देश्य अलग अलग होता है। आप में से कई लोग जो कि प्राइवेट सेक्टर में काम करते है या सेल्फ एम्प्लॉयड है सभी अपने रिटायरमेंट की प्लानिंग अभी से करना पसंद करना चाहेंगे।


आपके इसी उदेश्य को ध्यान में रखते हुए आज के आर्टिकल में हम ऐसे इन्वेस्टमेंट स्कीम के बारे में चर्चा करेंगे जिन में इन्वेस्ट करके न केवल आप अपना रिटायरमेंट सुरक्षित कर सकते है बल्कि वर्तमान में अपना इनकम टैक्स भी बचा सकते है। (more…)

ऐसी इनकम जिन पर भारत में कोई टैक्स नहीं लगता – tax free income in india section 10

ऐसी इनकम जिन पर भारत में कोई टैक्स नहीं लगता – tax free income in india section 10

tax free income in india section 10 – आपने देखा होगा कि आप जो भी इनकम कमाते है उस पर या तो पहले से टीडीएस कटा हुआ होता है या आप खुद उस पर टैक्स का भुगतान करते हो। लेकिन कुछ इनकम ऐसी भी होती है जिन पर आपको बिलकुल भी टैक्स नहीं देना पड़ता और इन्ही incomes को हम tax free income कहते है। (more…)

फॉर्म 26 as क्या है और इनकम टैक्स रिटर्न भरने में यह क्यों जरुरी है ? form 26as in hindi

फॉर्म 26 as क्या है और इनकम टैक्स रिटर्न भरने में यह क्यों जरुरी है ? form 26as in hindi

form 26as in hindi – जब भी हम इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करते है तो हमें यही सलाह दी जाती है कि रिटर्न को फाइल करने से पहले अपना फॉर्म 26AS जरूर चेक करे। लेकिन अधिकतर लोग यह लोग समझ नहीं पाते है कि form 26as क्या है और इसे कहा से चेक करे।

इसी वजह से अधिकतर करदाता फॉर्म 26as देखे बिना अपनी रिटर्न फाइल कर देते है, जिससे उनकी रिटर्न में कई बार गलतियां रह जाती है। करदाताओं को अपनी रिटर्न में गलती का पता तब लगता है जब उनकी रिटर्न इनकम टैक्स डिपार्टमेंट द्वारा प्रोसेस की जाती है और उनको सेक्शन 143(1) में इंटिमेशन भेजा जाता है। (more…)

Footer Codes in Head and Footer Code