audit under gst – जीएसटी में ऑडिट कब की जाती है और कितने टाइप्स की ऑडिट की जा सकती है।

audit under gst – जीएसटी में ऑडिट कब की जाती है और कितने टाइप्स की ऑडिट की जा सकती है।

audit under gst – जीएसटी में रजिस्टर पर्सन को Chartered accountant (CA) या Cost accountant (CMA)  से अपने खातों की ऑडिट करवानी पड़ती है। एक रजिस्टर्ड पर्सन को जीएसटी एक्ट के प्रोविज़न्स के आधार पर GST AUDIT करवानी पड़ती है।

आज के आर्टिकल में हम gst audit के types और ऑडिट करवाना कब जरुरी है के बारे में जानेंगे। (more…)

job work under gst in hindi

job work under gst in hindi

job work under gst in hindi – एक पर्सन जब goods को किसी अन्य पर्सन को ट्रांसफर करता है, तो इसे सप्लाई माना जाता है और goods की सप्लाई होने पर उस ट्रांज़ैक्शन पर जीएसटी लगाया जाता है।

लेकिन अगर वह पर्सन उस goods  को sell न करके उस पर कुछ काम करवाने के लिए आगे भेजता है, तो यह प्रोसेस जॉब वर्क मानी जाती है। (more…)

gst compensation cess के बारे में पूरी जानकारी – gst compensation cess in hindi

gst compensation cess के बारे में पूरी जानकारी – gst compensation cess in hindi

जीएसटी compensation सेस क्या है ? (what is gst compensation cess in hindi)

Gst compensation cess एक एडिशनल टैक्स है जो कि notified goods (sin गुड्स & luxury goods ) पर लगाया जाता है। यह notified goods पर sgst, cgst या igst के अलावा लगाया जाता है।

gst compensation cess सप्लाई किये गए गुड्स की वैल्यू पर लगाया जाता है। गुड्स की वैल्यू में जीएसटी के amount को शामिल नहीं किया जाता। (more…)

gst registration in hindi – जीएसटी में रजिस्ट्रेशन करवाना कब mandatory है ?

gst registration in hindi – जीएसटी में रजिस्ट्रेशन करवाना कब mandatory है ?

gst registration in hindi – जीएसटी में रजिस्ट्रेशन करवाना जरुरी है या नहीं, यह कई फैक्टर्स पर डिपेंड करता है। यदि कोई पर्सन जिसे जीएसटी में रजिस्ट्रेशन करवाना जरुरी था और उसने जीएसटी में Registration नहीं करवाया, तो उस पर पेनल्टी लगाई जाएगी। (more…)

ई – वे बिल क्या है ? कब जारी किया जाता है और कितने समय तक valid रहता है ? what is e way bill in hindi under gst

ई – वे बिल क्या है ? कब जारी किया जाता है और कितने समय तक valid रहता है ? what is e way bill in hindi under gst

what is e way bill in hindi under gst – GST लागू होने के बाद से GST Act में आये दिन अलग – अलग तरह के  बदलाव किये जा रहे है जिससे हर वर्ग के लोग चाहे वो व्यापारी हो या आम आदमी या कोई एक्सपर्ट हो सभी को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। 1 अप्रैल 2018 से भारत में ई वे बिल सिस्टम  (GST E WAY BILL ) लागू किया जा चुका है।

(more…)

कम्पोजीशन स्कीम क्या है और किसके द्वारा यह अपनायी जा सकती है – gst composition scheme in hindi

कम्पोजीशन स्कीम क्या है और किसके द्वारा यह अपनायी जा सकती है – gst composition scheme in hindi

gst composition scheme in hindi – जीएसटी सिस्टम में सप्लाइज के रिकार्ड्स मेन्टेन करना और हर महीने रिटर्न फाइल करना एक बिजनेसमैन  के लिए काफी जटिल समस्या है। एक बिजनेसमैन हमेशा यही चाहता है कि उसका ज्यादा से ज्यादा ध्यान उसके बिज़नेस की तरफ हो न कि टैक्स की कैलकुलेशन में। और जीएसटी सिस्टम में टैक्स कैलकुलेशन की process थोड़ी जटिल होने से कारोबारियों को बिज़नेस करने में कठिनाई का अनुभव करना पड़ रहा है। (more…)

Footer Codes in Head and Footer Code