gst compensation cess के बारे में पूरी जानकारी – gst compensation cess in hindi

gst compensation cess के बारे में पूरी जानकारी – gst compensation cess in hindi

जीएसटी compensation सेस क्या है ? (what is gst compensation cess in hindi)

Gst compensation cess एक एडिशनल टैक्स है जो कि notified goods (sin गुड्स & luxury goods ) पर लगाया जाता है। यह notified goods पर sgst, cgst या igst के अलावा लगाया जाता है।

gst compensation cess सप्लाई किये गए गुड्स की वैल्यू पर लगाया जाता है। गुड्स की वैल्यू में जीएसटी के amount को शामिल नहीं किया जाता। (more…)

जीएसटी में रजिस्ट्रेशन करवाना कब mandatory है – gst registration in hindi

जीएसटी में रजिस्ट्रेशन करवाना कब mandatory है – gst registration in hindi

gst registration in hindi – जीएसटी में रजिस्ट्रेशन करवाना जरुरी है या नहीं, यह कई फैक्टर्स पर डिपेंड करता है। यदि कोई पर्सन जिसे जीएसटी में रजिस्ट्रेशन करवाना जरुरी था और उसने जीएसटी में रजिस्ट्रेशन नहीं करवाया, तो उस पर पेनल्टी लगाई जाएगी। (more…)

what is e way bill in hindi under gst

what is e way bill in hindi under gst

what is e way bill in hindi under gst – GST लागू होने के बाद से GST एक्ट में आये दिन अलग – अलग तरह के  बदलाव किये जा रहे है जिससे हर वर्ग के लोग चाहे वो व्यापारी हो या आम आदमी या कोई एक्सपर्ट हो सभी को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। 1 अप्रैल 2018 से भारत में ई वे बिल ( E WAY BILL ) लागू किया जा चुका है।

1 जून 2018 से INTRA STATE ( राज्य के भीतर ) भी गुड्स ट्रांसफर करने पर E -WAY बिल लागू हो जायेगा।    (more…)

कम्पोजीशन स्कीम क्या है और किसके द्वारा यह अपनायी जा सकती है – gst composition scheme in hindi

कम्पोजीशन स्कीम क्या है और किसके द्वारा यह अपनायी जा सकती है – gst composition scheme in hindi

gst composition scheme in hindi – जीएसटी सिस्टम में सप्लाइज के रिकार्ड्स मेन्टेन करना और हर महीने रिटर्न फाइल करना एक बिजनेसमैन  के लिए काफी जटिल समस्या है। एक बिजनेसमैन हमेशा यही चाहता है कि उसका ज्यादा से ज्यादा ध्यान उसके बिज़नेस की तरफ हो न कि टैक्स की कैलकुलेशन में। और जीएसटी सिस्टम में टैक्स कैलकुलेशन की process थोड़ी जटिल होने से कारोबारियों को बिज़नेस करने में कठिनाई का अनुभव करना पड़ रहा है। (more…)

जीएसटी रिटर्न्स के फॉर्म्स के टाइप्स और Due डेट – gst return in hindi

जीएसटी रिटर्न्स के फॉर्म्स के टाइप्स और Due डेट – gst return in hindi

जीएसटी रिटर्न – gst return in hindi

gst return in hindi – जीएसटी एक्ट में रजिस्टर्ड सभी पर्सन को जीएसटी रिटर्न भरना mandatory है। रजिस्टर्ड पर्सन द्वारा जीएसटी रिटर्न फाइल नहीं करने या देरी से फाइल करने पर जीएसटी एक्ट में इंटरेस्ट और पेनल्टी का प्रावधान किया गया है। इसलिए एक रजिस्टर्ड पर्सन को समय पर जीएसटी रिटर्न फाइल करना चाहिये। (more…)

जीएसटी सिस्टम में रिवर्स चार्ज मैकेनिज्म क्या है और यह कैसे काम करता है – reverse charge gst meaning in hindi

जीएसटी सिस्टम में रिवर्स चार्ज मैकेनिज्म क्या है और यह कैसे काम करता है – reverse charge gst meaning in hindi

reverse charge gst meaning in hindi – सामान्य तौर पर जीएसटी सिस्टम में गुड्स एंड सर्विसेज के सप्लायर द्वारा गवर्नमेंट को जीएसटी का भुगतान किया जाता है। एक टैक्सेबल पर्सन गुड्स एंड सर्विसेज के Purchaser से जीएसटी कलेक्ट करता है और उसका गवर्नमेंट को भुगतान करता है।

लेकिन जीएसटी सिस्टम में कुछ केसेस ऐसे भी जहाँ गुड्स एंड सर्विसेज के सप्लायर द्वारा गवर्नमेंट को जीएसटी का भुगतान न किया जाकर गुड्स एंड सर्विसेज के प्राप्तकर्ता द्वारा किया जाता है। इसी प्रोसेस को रिवर्स चार्ज मैकेनिज्म के तौर पर जाना जाता है। (more…)

Footer Codes in Head and Footer Code